पुलिस ब्रीफिंग में मोदी के काफिले पर हमले की आशंका, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट

उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के मद्देनजर पुलिस ब्रीफिंग में एक पुलिस अधिकारी द्वारा मोदी के काफिले पर हमले की आशंका जाहिर किए जाने की खबर से सनसनी फैल गई। हालांकि राज्य के पुलिस उपमहानिदेशक ने एेसी कोई खुफिया खबर होने से इनकार किया है। प्रधानमंत्री की मऊ के भुजौटी ऑफिसर्स कॉलोनी के सामने रैली होनी है।

पुलिस अधीक्षक ने जताई राकेट लांचर से हमले की आशंका
इस कार्यक्रम को लेकर हुई पुलिस ब्रीफिंग के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक रविन्द बहादुर सिंह ने कहा कि एेसी सूचना मिली है कि प्रधानमंत्री के काफिले पर राकेट लांचर से हमला हो सकता है। सिंह ने कहा, ‘‘प्राप्त सूचनाआें के अनुसार प्रधानमंत्री जी को गुजरात के पूर्व गृह मंत्री हरेन पांड्या की हत्या के मामले में फरार अभियुक्तों से भी खतरा है। रसूलपती और उसके दो सहयोगी जो पाकिस्तान में बैठे हैं, वे प्रधानमंत्री के काफिले पर रॉकेट लांचर से अथवा विस्फोटक से भरे वाहन से हमला करने की योजना बना रहे हैं, एेसा इनपुट आया है।’’

रैली के दौरान पुलिसकर्मियों को हर तरह के खतरों से किया गया आगाह
उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए सुरक्षा व्यवस्था एेसी जगह पर महत्वपूर्ण हो जाती है, जहां से राकेट लांचर का प्रयोग किया जा सकता है तथा अन्य वाहन जो काफिले की गाडिय़ों के आसपास चल रहे हों।’’ सिंह ने यह भी कहा, ‘‘प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर जो सूचनाएं हैं, उनके दृष्टिगत निरन्तर सूचना संकलन कराया जा रहा है किन्तु इस संबन्ध में कोई उल्लेखनीय तथ्य प्रकाश में नहीं आया है।’’

दूसरी आेर, प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) दलजीत सिंह चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री के काफिले पर हमले की आशंका की कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई। उन्होंने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक ने जो भी कहा है, वह रैली के दौरान सुरक्षा व्यवस्था में तैनात किए गए पुलिसकर्मियों को हर तरह के खतरों से आगाह करने की नियमित प्रक्रिया का हिस्सा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *